प्याज (onion) के हैं ये 13 ख़ास फायदे, आज से ही करें इनका सेवन शुरू

प्याज का इस्तेमाल भारत में लगभग प्रत्येक घर में खाने एवं खाना पकाने में किया जाता है | यह लोहा, गंधक, विटामिन सी तथा तांबे जैसे बेशकीमती खनिजो का भण्डार है जो शरीर की शारीरिक क्षमता को बढ़ाते हैं | आज हम आपको अपनी वेबसाइट के जरिये बताएँगे इसके सेवन से पढने वाले स्वास्थ्य लाभ |

प्याज के प्रयोग से होने वाले फायदे :-

  1. कान दर्द से राहत :- अगर आपके कान में दर्द है या उसमे से मवाद निकलता हो तो प्याज के रस को हल्का गरम करने के पश्चात् कान में डालें | इस विधि के प्रयोग से कान दर्द की परेशानी से राहत मिलती है |
  2. लू लगने से बचाव :- प्याज के रस को अपनी कनपटियों एवं छाती पर लगाने से शरीर में लू नहीं लगती |
  3. नाक से निकलता खून करे बंद :- कच्चे प्याज को काटकर सूंघने से नाक से खून निकलना बंद हो जाता है |
  4. मधुमक्खी के काटने पर आराम :- शरीर के किसी भाग पर अगर मधुमक्खी काट दे तो उस भाग पर प्याज का रस लगायें | इससे जलन और दर्द से बहुत आराम मिलता है |
  5. पाचनक्रिया की समस्या को ठीक करता है :- कच्चा प्याज खाने से पेट में भोजन पचानेवाला रस बढ़ता है जिससे पाचनक्रिया की परेशानियों से मुक्ति मिलती है |
  6. गठिया की परेशानी में लाभ :- प्याज के रस में सरसों का तेल मिलाकर मालिश करने पर गठिया से परेशान रोगी को फायदा मिलता है |
  7. खांसी के लिए उपयोगी :- प्याज के रस में शहद मिलाकर चाटने पर दमा तथा खांसी में बहुत अच्छा लाभ मिलता है |
  8. पायरिया में फायदेमंद :- अगर आप पायरिया से पीड़ित हैं तो प्याज के कुछ टुकड़ों को एक तवे पर गरम कर लीजिये | इसके बाद इन टुकड़ों को अपने दाँतों के नीचे दबाकर 10 से 20 मिनट तक अपना मुँह बंद कर लीजिये | ऐसा करने पर आपके मुँह में जो लार इकट्ठी होगी उसे अपने मुँह में चारो तरफ घुमाइए और फिर लार बाहर फैंक दें | 8 से 10 दिन तक 4-5 बार नियमित रूप से इस प्रयोग को दोहराएं | ऐसा करने कर पायरिया की समस्या जड़ से समाप्त हो जाती है साथ ही साथ दांतों के कीड़े भी मर जाते हैं | इसके अलावा मसूड़े भी मजबूत होते हैं |
  9. बुखार से छुटकारा :- प्याज के रस में शहद मिलकर पीने से बुखार दूर भाग जाता है |
  10. दिल के रोगों से बचाव :- कच्चा प्याज खाना सेहत के लिए बहुत ही गुणकारी होता है | यह शरीर में कोलेस्ट्रोल स्तर को बढ़ने से रोकता है जिससे दिल स्वास्थ्य रहता है |
  11. शरीर की प्रतिरोधक क्षमता को बढाता है :- प्याज में उपलब्ध विटामिन-सी तथा फ़ायटोकेमिक्ल्स हमारी रोगों से लड़ने की ताकत को बढ़ाता है |
  12. अनीमिया (रक्ताल्पता) से बचाव करे :- प्याज में उपलब्ध लोहा से शरीर में रक्ताल्पता (खून की कमी) जैसी बीमारी नहीं होती साथ ही साथ यह शरीर में खून को गाढ़ा बनाता है |
  13. मिर्गी में लाभकर :- अगर किसी को मिर्गी का दौरा पड़ने पर प्याज को सुंघा दे तो इससे ही कई बार रोगी ठीक हो जाता है |

Pyaj ke hain ye 13 khaas fayde, aaj se hi karein inka sewan shuru

Pyaj ka istemaal bhaarat mein lagbhag pratyek ghar mein khaane evm khaana pakaane mein kiya jaata hai. Yeh loha, gandhak, vitamin C tatha taambe jaise beshkeemti khanijo ka bhandaar hai jo shareer ki sharirik kshamta ko badhate hain. Aaj hum aapko apni website ke jariye batayenge iske sewan se padne wale swasthya laabh.

  1. Kaan dard se raahat :- Agar aapke kaan mein dard hai ya usme se mavaad nikalta ho to pyaj ke ras ko halka garam karne ke pashchatkaan mein daalein. Is vidhi ke prayog se kaan dard ki pareshani se raahat milti hai.
  2. Lu lagne se bachav :- Pyaj ke ras ko apni kanpatiyon evm chhati par lagaane se shareer mein lu nahi lagti.
  3. Naak se nikalta khoon kare band :- Kachche pyaj ko kaatkar soonghne se naak se khoon nikalana band ho jaata hai.
  4. Madhumakkhi ke kaatne par aaram :- Shareer ke kisi bhaag par agar madhumakkhi kaat de to us bhaag par pyaaj ka ras lagayein. Isse jalan aur dard se bahut aaram milta hai.
  5. Pachankriya ki samasya ko theek karta hai :- Kachcha pyaaj khaane se pet mein bhojan pachanewala raas badhta hai jisse pachankriya ki pareshaniyon se mukti milti hai.
  6. Gathiya ki pareshani mein laabh :- Pyaj ke ras mein sarso ka tel milakar maalish karne par gathiya se pareshan rogi ko faayda milta hai.
  7. Khaansi ke liye upyogi :- Pyaj ke ras mein shehad milaakar chaatne par damaa tatha khaansi mein bahut achchha laabh milta hai.
  8. Payriya mein faydemand :- Agar aap payriya se peedhit hain to pyaj ke kuchh tukdon ko ek tave par garam kar lijiye. Iske baad in tukdo ko apne daanto ko neeche dabakar 10 se 20 minute tak apna munh band kar lijiye. Aisa karne par aapke munh min jo laar ikatthi hogi use apne munh mein charo taraf ghumaiye aur fir laar baahar faink de. 8 se 10 din tak 4-5 baar niymit roop se is prayog ko dohrayein. Aisa karne par payria ki samasya jad se samaapt ho jaati hai sath hi sath daanto ke keede bhi mar jaate hain. Iske alawa masoode bhi majboot hote hain.
  9. Bukhaar se chhutkara :- Pyaj ke ras mein shehad milaakar peene se bukhaar door bhaag jaata hai.
  10. Dil ke rogon se bachaav :- Kachcha pyaj khana sehat ke liye bahut hi gunkaari hota hai. Yeh shareer mein cholesterol star ko badhne se rokta hai jisse dil swasth rehta hai.
  11. Shareer ki pratirodhak kshmta ko badhaata hai :- Pyaj mein uplabdh vitamin-C tatha phytochemical hamari rogo se ladhne ki taakat ko badhata hai.
  12. Anemia (raktalapta) se bachav kare :- Pyaj mein uplabdh loha se shareer mein raktalapta (khoon ki kami) jaisi bimari nahi hoti sath hi sath yeh shareer mein khoon ko gaadha banata hai.
  13. Mirgi mein laabhkar :- Agar kisi ko mirgi ka daura padne par pyaj ko sungha de to isse hi kai baar rogi theek ho jaata hai.

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Enable Google Transliteration.(To type in English, press Ctrl+g)